बिशन सिंह बेदी ने बीसीसीआई का नाम बदलने की वकालत की

0
80
Advertisement Goes Here!

नई दिल्ली : भारतीय टीम के धुरंधर स्पिनर रहे बिशन सिंह बेदी अपने बेबाक रुख के लिए जाने जाते हैं. चाहे वह टीम इंडिया के सदस्य रहे हों या फिर क्रिकेट से संन्यास ले चुके हों. उनके तेवरों में कभी कोई कमी नहीं आई. उन्हें जब भी जो भी सही लगा, उन्होंने उसे सबके सामने रखा. यही कारण है कि उनका सख्त रुख कई बार कई लोगों को रास नहीं आया. लेकिन बिशन सिंह बेदी को इससे फर्क नहीं पड़ता. टेस्ट क्रिकेट की बात हो, टीम इंडिया की बात हो या फिर भारत पाक के बीच होने वाली सीरीज की बात.

 

 

अब बेदी ने एक बार फिर से भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के खिलाफ उग्र तेवर दिखाए हैं. बीसीसीआई के धुर विरोधी रहे बेदी ने कहा कि भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड से नियंत्रण शब्द हटा देना चाहिये क्योंकि यह तानाशाही का सूचक है.

बेदी ने कहा, ‘भारतीय टीम जर्सी पर भारत का लोगो (तिरंगा) पहनती है, बीसीसीआई का लोगो नहीं. मेरी सोच एकदम स्पष्ट है. खिलाड़ी बीसीसीआई के लिये नहीं बल्कि भारत के लिये खेल रहे हैं. न्यूजीलैंड और आस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय प्रतीक चिन्ह है.  इंग्लैंड का अपना है. पाकिस्तान और बांग्लादेश भी अपना राष्ट्रीय प्रतीक चिन्ह पहनते हैं.’ उन्होंने कहा, ‘इसलिये नाम भारतीय क्रिकेट बोर्ड या क्रिकेट बोर्ड होना चाहिये.’

बेदी ने श्रीलंका के खिलाफ मौजूदा सीरीज जैसी सीरीज के औचित्य पर भी सवाल उठाया. उन्होंने कहा, ‘इस सीरीज से हमें क्या हासिल हो रहा है. हम बार बार बस उनके खिलाफ खेल रहे हैं. उन्हें उनकी धरती पर हराने के बाद फिर यहां खेल रहे हैं. इसमें कोई मुकाबला ही नहीं है. कोई मायने नहीं है.’ उन्होंने कहा, ‘यह सीरीज नहीं होती तो खिलाड़ी रणजी ट्रॉफी खेलते. दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिये अभ्यास शिविर भी लग सकता था, जिसके बारे में विराट कोहली बात कर रहा था.’

Ref:-zeenews.india.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here