3 talaq
Advertisement Goes Here!

3 talaq पर केंद्र सरकार का बिल,मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड को नामंजूर है, बोले फीर से Review हो

नई दिल्ली/भारत: ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) की आज आपात मीटिंग हुई,उसमे 3 talaq पर केंद्र सरकार की ओर से तैयार किए गए विधेयक को नामंजूर कर दिया है ANI के मुताबिक AIMPLB ने केंद्र सरकार से अपील की है 3 talaq विधेयक को वापस ले और इसमें सुधार के बाद दु बारा पेश किया जाए, AIMPLB ने तर्क दिया की ये विधेयक कई परिवारों को बर्बाद कर देगा और ये संविधान और शरीयत के भी खिलाफ है|

यह भी पढे:- दलाई लामा ने कहा ,भारत उस वक्त वास्तविकता की खोज करने में लग गया था,जब पूरी दुनिया अंधेरे से बाहर निकलना चाहती थी

रविवार को लखनऊ में एक आपात बैठक बुलाई गई उसके बाद बोर्ड के अध्यक्ष सज्जाद नोमानी ने बोला की, मोदी सरकार की इस बिल को तैयार करने में प्रक्रिया को ठीक से देखा नहीं गया है. किसी पक्षकार से भी नहीं पूछा गया है. AIMPLB ने प्रधानमंत्री मोदी से अपील किया हैं कि वे इस बिल को वापस लें और नए तरीके से सोच विचार कर तब लाये| प्रमुख मुस्लिम महिला अधिकार कार्यकर्ताओं ने बोला कि मुस्लिम महिलाओं को इंसाफ दिलाने का मकसद तब तक पूरा नहीं हो पाएगा जब तक इस कानून में निकाह हलाला, बहुविवाह और बच्चों के संरक्षण जैसे मुद्दे को भी नहीं जोड़ा जाता|

यह भी पढे:- जयराम ठाकुर को, काफी उठा पटक के बाद बीजेपी ने हिमाचल का मुख्य मंत्री चुन लिया है

मंत्रिमंडल ने पिछले शुक्रवार को मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक के बील को स्वीकृति दी थी. इसे संसद के मौजूदा शीतकालीन सत्र में पेश किए जाने की संभावना है. इस कानून में तीन तलाक देने वाले पति को तीन साल की जेल और जुर्माने की सजा तथा पीड़िता के लिए गुजारा-भत्ते का भी प्रावधान है. सुप्रीम कोर्ट ने अपने 22 अगस्त के फैसले में 3 talaq को गैरकानूनी और असंवैधानिक करार दिया था.इसके बाद कयास लगाये जा रहे थे की सरकार एक बिल ला सकती है और वही हुआ भी|

यह भी पढे:- टाइगर जिंदा है’ फिल्म के एक गाना ‘Swag Se Swagat’ पर दो लड़कियो के डांस खूब पसंद किए जा रहे है| विडियो देखने के लिए इस पोस्ट को पढे