Advertisement Goes Here!

Anurag kashyap ने अपनी फिल्म मुक्केबाज को बनाने से पहले इसके बारे में ज्यादा बात नहीं की. ऐसी चर्चा जरूर थी कि वो बॉक्सिंग जैसे विषय पर कोई फिल्म बना रहे हैं, लेकिन इसकी शूटिंग काफी गुप्त रूप से ही की गई. अब फिल्म का एक सॉन्ग टीजर रिलीज हुआ है. दरअसल ये सॉन्ग बॉलीवुड के आम रोमांटिक सॉन्ग्स की तरह नहीं है. anurag kashyap की फिल्मों से वैसे भी किसी आम चीज की उम्मीद नहीं की जाती है. वो हर बार कुछ खास, कुछ अलग ही पेश करते हैं. इस गाने को उन्होंने एक कविता पर बनाया है.ये कविता उत्तर भारत की बेहद प्रचलित कविता है- ‘मुश्किल है अपना मेल प्रिये.’ जितनी भी प्रेम कहानियों में जात-पात, ऊंच-नीच का अंतर रहा है, उन सब प्रेम कथाओं को इस कविता ने बयां किया है. इस कविता को लिखा है डॉ. सुनील जोगी ने.अनुराग ने अपनी फिल्म मुक्केबाज में इस गाने को एक आइटम सॉन्ग बनाकर पेश किया है. खास बात ये है कि नवाजुद्दीन सिद्दिकी इस फिल्म में नहीं हैं, लेकिन इस सॉन्ग में उन्होंने खास अपीयरेंस दिया है. उन्हें देखकर देव-डी के अभय देओल की याद आ जाती है.

यहां सुनें गाना

गाने के बारे में अनुराग का कहना है, ‘ मैं हमेशा से डॉ. सुनील जोगी का बहुत बड़ा फैन रहा हूं. इस फिल्म के लिए मुझे उनकी ये कविता बहुत मुफीद लगी. ये कविता सालों से हमारे यहां प्यार में होने वाले भेदभाव की परिभाषा बताती आ रही है. 17 साल पुरानी कविता है, जिसे हमने इस फिल्म के लिए कंपोज किया है.बता दें कि फिल्म में विनीत कुमार, जोया हुसैन, जिम्मी शेरगिल और रवि किशन मुख्य भूमिका में हैं. फिल्म की शूटिंग बरेली में हुई है. अगले साल 12 जनवरी को फिल्म रिलीज होगी.सुनील जोगी जाने-माने कवि हैं. वह 75 किताबें लिख चुके हैं. भारत सरकार द्वारा उन्हें 2015 में पद्म श्री से भी नवाजा जा चुका है. मुश्किल है अपना मेल प्रिये के अलावा उनकी कविता बेटियां भी बेहद पॉपुलर है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here