cbi--2g-scam
Advertisement Goes Here!

 

नई दिल्ली/भारत:- पूर्व दूरसंचार मंत्री ए. राजा और द्रमुक सांसद कनिमोई को सीबीआई की विशेष अदालत ने गुरुवार को 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाला मामले में बरी कर दिया. अदालत ने 15 अन्य आरोपियों और तीन कंपनियों को भी बरी किया गया है.विशेष अदालत ने गुरुवार को इस मामले में सभी आरोपियों को बरी करते हुए जांच एजेंसी की ओर से पेश मामले को खारिज कर दिया. सीबीआई ने कहा है कि वह 2g scam स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाले के सभी आरोपियों को बरी करने के विशेष अदालत के फैसले को चुनौती देगी

यह भी पढे:- CBI कोर्ट ने ए राजा सहित सभी 25 आरोपियों को किया बरी :-2G स्पेक्ट्रम घोटाला

ED ने भी विशेष अदालत के फैसले को चुनौती देने का फैसला किया है. विशेष अदालत ने 19 लोगों को 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन से संबंधित मनी लांड्रिंग मामले में बरी किया है. ईडी के अधिकारियों ने कहा कि एजेंसी फैसले का अध्ययन करेगी और सबूतों और जांच के साथ उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाएगी.

यह भी पढे:- मौसम रिपोर्ट देखे

सीबीआई के प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने कहा, 2g scam से संबंधित फैसले की प्रथम दृष्टया समीक्षा के बाद ऐसा प्रतीत होता है कि अभियोजन द्वारा आरोपों को आगे बढ़ाने के लिए पेश किए गए प्रमाणों पर संबंधित अदालत ने उचित तरीके से विचार नहीं किया. सीबीआई इस मामले में जरूरी कानूनी कदम उठाएगी.

यह भी पढे:- गाजर की खीर बनाना सीखे

सुब्रमण्यम स्वामी ने बोला की इस फैसले से निराश हुई
बीजेपी सांसद और वरिष्ठ वकील सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि वे 2g scam मामले में सभी आरोपियों के बरी होने से निराश हुई. उन्होंने कहा कि जांच अधिकारी भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए गंभीर नहीं थे. मुझे उम्मीद है कि प्रधानमंत्री इस फैसल से सबक लेंगे. भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी लड़ाई युद्ध स्तर पर जारी रहेगी.स्वामी ने कहा कि ‘2जी स्कैम मामले को फिर से पटरी पर लाया जाएगा. इसे फिर से ईमानदार कानून अधिकारियों और वकीलों जो कि मंत्रियों की ‘चमचागिरी’ नहीं करते, उनके माध्यम से ट्रैक पर लाया जा सकता है.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here