Advertisement Goes Here!

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शनिवार को फ्लेक्सी किराये में पूरी तरह से सुधार करने के संकेत देते हुए यह बात कही.भारतीय रेलवे भी होटलों और विमानन कंपनियों की तर्ज पर टिकट बुकिंग पर छूट देने की तैयारी में है. इसके तहत रेलगाड़ी के पूरा टिकट बुक नहीं होने पर रेलवे विमानन कंपनियों और होटल की तरह टिकट में छूट दे सकती है.गोयल की यह टिप्पणी फ्लेक्सी किराये स्कीम की समीक्षा के लिए छह सदस्यीय समिति के गठन के बाद आई. वरिष्ठ अधिकारियों के एक दिवसीय सम्मेलन के बाद गोयल ने कहा, “रेलवे, विमानन कंपनी और होटलों के डायनमिक प्राइसिंग प्रारूप का अध्ययन कर रहा है. हम डायनमिक प्राइसिंग नीति पर विचार-विमर्श कर रहे हैं. अभी तक हमारा ध्यान कीमतें न बढ़ें इस पर था लेकिन मैं इससे आगे जाना चाहता हूं. मैं ऐसी संभावना तलाश रहा हूं कि अगर रेलगाड़ी की सीटें नहीं भरे तो विमानन कंपनियों की तरह किराये में रियायत दी जा सके.”

गोयल ने कहा, “हम इसमें अश्विनी लोहानी की विशेषज्ञता का इस्तेमाल करेंगे. जैसे होटलों में डायनामिक प्राइसिंग है. सबसे पहले कीमतें कम. फिर बाद में कीमतें बढ़ती जाती है और बाद में बचे कुछ कमरों पर बुक माय होटल और अन्य वेबसाइटों के माध्यम से छूट की पेशकश होती है.” उन्होंने यह सवाल भी उठाया कि फ्लेक्सी किराए केवल रेल टिकट की कीमत में वृद्धि के लिए ही क्यों थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here