Advertisement Goes Here!
दिलवाले दुल्हनियां ले जाएंगे (1995), मोहब्बतें (2000), रब ने बना दी जोड़ी जैसी बेहतरीन फिल्मों के डायरेक्टर रहे आदित्य चोपड़ा ने बेफिक्रे (2016) का भी निर्देशन किया था. लेकिन, इस फिल्म को दर्शकों ने सिरे से नकार दिया था.
ई दिल्ली/India: अभिनेत्री रानी मुखर्जी के पति और यशराज फिल्म्स के मालिक अदित्या चोपड़ा बेहद कम मौकों पर मीडिया के कैमरों में कैद होते हैं. वे ऐसे सेलेब हैं जिन्हें लाइमलाइट बिल्कुल भी पसंद नहीं है. दिलवाले दुल्हनियां ले जाएंगे (1995), मोहब्बतें (2000), रब ने बना दी जोड़ी जैसी बेहतरीन फिल्मों के डायरेक्टर रहे आदित्य निर्देशन ने बेफिक्रे  (2016) का भी निर्देशन किया है. हालांकि, इस फिल्म को दर्शकों ने सिरे से नकार दिया था. बॉक्स ऑफिस पर जब यह फिल्म फ्लॉप साबित हुई, तो सबसे बड़ा धक्का आदित्य चोपड़ा को लगा था|अनुपमा चोपड़ा के शो फिल्म कम्पेनियन में बातचीत के दौरान रानी मुखर्जी ने बताया कि रणवीर सिंह और वाणी कपूर स्टारर फिल्म ‘बेफिक्रे’ ने उनके पति पर खासा प्रभाव डाला था| बकौल रानी, “मुझे ‘बेफिक्रे’ बेहद पसंद है, लेकिन फिल्म के फ्लॉप होने का गहरा असर आदित्य पर पड़ा था.” रानी ने यह भी बताया कि शायद यह पहली बार था जब आदित्य की कोई फिल्म बड़े विफल रही हो| इससे बाहर निकलना उनके लिए आसान नहीं था.

मालूम हो कि, आदित्य चोपड़ा ने अबतक सिर्फ 4 फिल्मों का निर्देशन किया था. इसमें से तीन फिल्में उन्होंने शरुख खान के साथ बनाई, जो बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट रहीं. चौथी फिल्म में उन्होंने रणवीर सिंह और वाणी कपूर को कास्ट किया, जो फ्लॉप साबित हुई. फिल्म को दर्शकों ने नकारा, साथ ही साथ क्रिटिक्स ने भी इसकी जमकर खिचाई की थी. ‘बेफिक्रे’ पिछले साल 9 दिसंबर को रिलीज हुई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here