RSS
Advertisement Goes Here!

पहली बार SC के पूर्व जज केटी थामस ने बोला की ,संविधान और आर्मी के बाद RSS ही देशवासियों की रक्षा करता है.

नई दिल्ली/भारत : आज पहली बार केटी थामस सूप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया के पूर्व जज ने खुल के अपनी राय राखी और बोला की RSS ही है जो भारत में संविधान और आर्मी के बाद देशवासियों की रक्षा करता है संघ की वजह से लोग खुद को सुरक्षित महसूस करते हैं. उन्होंने कहा कि सेक्‍युलरिज्‍म का विचार धर्म से दूर नहीं रखा जाना चाहिए. कोट्टयम में संघ के एक प्रशिक्षण कैंप को संबोधित करते हुए पूर्व जज थॉमस ने कहा, अगर किसी एक संस्‍था को आपातकाल के दौरान देश को आजाद कराने का श्रेय मिलना चाहिए, तो मैं वह श्रेय आरएसएस को दूंगा. उन्होंने कहा कि संघ अपने स्‍वयंसेवकों में राष्‍ट्र की रक्षा करने के लिए अनुशासनशील बनाता है. उन्होंने कहा कि स्वयंसेवक युद्ध और युद्ध के बाद देश और देश की सीमा से बाहर जाकर लोगों की मदद करते हैं. आदिवासी इलाकों में ये लोग काम करके मानवता की मिसाल पेश कर रहे हैं. थॉमस ने कहा कि अगर कोई मुझसे ये पूछे कि भारत में लोग सुरक्षित कैसे हैं, तो मैं कहूंगा कि इस देश में संविधान है, इस देश में डेमोक्रेसी है, इसकी आर्मी है. इसके बाद भारत में RSS है. जो देशवासियों की रक्षा करता है. उन्होंने कहा, ‘मैं आरएसएस की तारीफ करता हूं. मैं समझता हूं कि आरएसएस का शारीरिक प्रशिक्षण किसी हमले के समय देश और समाज की रक्षा के लिए है.’

पूर्व जज ने कहा कि हिंदू एक धर्म नहीं बल्कि एक संस्कृति है. जस्टिस थॉमस ने कहा कि अल्‍पसंख्‍यकों को तभी असुरक्षित महसूस करना चाहिए जब वे उन अधिकारों की मांग शुरू कर दें जो बहुसंख्‍यकों के पास नहीं हैं. पद्मभूषण से सम्मानित केटी थॉमस 1996 में सुप्रीम कोर्ट के जज नियुक्त हुए थे. थॉमस इससे पूर्व भी आरएसएस के पक्ष में कई बार बोल चुके हैं. अगस्त, 2011 में उन्होंने अपने एक भाषण में महात्मा गांधी की हत्या में आरएसएस को मुक्त कर दिया था, उनके इस बयान पर खूब बवाल भी मचा था. उन्होंने 2013 में राजीव गांधी की हत्या के आरोपियों को मौत की सजा से मुक्त करने की भी बात काही थी.आपको बता दे की SC के जज का बयान तब आया है जब RSS पर मुख्य विपक्षी पार्टी ने आरोप लागया था की दंगा फैलाती है और देश का माहौल खराब करती है।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here